Tuesday, June 18, 2024
uttarakhandekta
Homeकोरोना हैल्थ बुलेटिनH3N2 Virus: H3N2 काफी समय बाद फिर उस डर से सामना होते...

H3N2 Virus: H3N2 काफी समय बाद फिर उस डर से सामना होते दिखा, इन्फ्लूएंजा वायरस से गुजरात में पहली मौत, वडोदरा में चल रहा था महिला का इलाज

बताया जा रहा है कि 58 वर्षीय महिला हाइपरटेंशन की मरीज थी उसे सांस लेने में दिक्कत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

H3N2 Virus गुजरात के वडोदरा में H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस से पहली मौत

क्या देश में H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता ही जा रहा है ??

यहाँ इस बीच गुजरात के वडोदरा में H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस से पहली मौत का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि 58 वर्षीय महिला हाइपरटेंशन की मरीज थी, उसे सांस लेने में दिक्कत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अब उसकी मौत हो गई है।

advertisement

मरीज दो दिन पहले अस्पताल में कराया गया था भर्ती

यहाँ बताया जा रहा है कि महिला हाइपरटेंशन की मरीज थी और कई दिनों से वेंटिलेटर पर थी। वडोदरा के सयाजी अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। जानकारी के अनुसार, मरीज को दो दिन पहले ही इलाज के लिए अस्पताल लाया गया था।

H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस से देश में हुई अब तक तीसरी मौत

पाठकों को बता दें कि H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस से गुजरात में यह पहली और देश में तीसरी मौत है। इससे पहले सरकार ने बताया था कि H3N2 वायरस से दो लोगों की मौत हो गई थी। इनमें एक व्यक्ति की मौत हरियाणा और दूसरे की कर्नाटक में हुई थी। फिलहाल गुजरात के वडोदरा में एच3एन2 वायरस से हुई मरीज की मौत की जांच के लिए सैंपल अहमदाबाद भेज दिए गए हैं।

गुजरात में कोरोना के मामलों में हो रही बढ़ोत्तरी

आप को बताते हैं कि H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस के बीच गुजरात में कोरोना केसों की रफ्तार में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। गुजरात में शनिवार को 51, रविवार को 48 और सोमवार को 45 पॉजिटिव केस सामने आए थे। बीते तीन दिनों में गुजरात में कोरोना के 144 मामले सामने आ चुके हैं।

यह कोविड जैसे हैं H3N2 और H1N1 के लक्षण

हमारे लिए गौरतलब है कि भारत में अब तक केवल H3N2 और H1N1 संक्रमण का पता चला है। दोनों में कोविड जैसे लक्षण हैं। इनके लक्षणों में लगातार खांसी, बुखार, ठंड लगना, सांस फूलना और घरघराहट शामिल हैं। इसके अलावा मरीजों ने गले में खराश, शरीर में दर्द और दस्त की भी सूचना दी है। ये लक्षण लगभग एक सप्ताह तक बने रह सकते हैं।

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

Comments are closed.

Most Popular

Recent Comments